अमेठी में किशोरी शर्मा के आने से कांग्रेस का पलड़ा भारी

अमेठी 3 मई (त्रिवेणी न्यूज़)

इस लोकसभा चुनाव में अमेठी से भले ही राहुल गांधी नहीं लड़ रहे हैं लेकिन कांग्रेस प्रत्याशी के रूप में किशोरी लाल शर्मा का मैदान में आना भाजपा प्रत्याशी स्मृति ईरानी के लिए एक बड़ी चुनौती बन गया है। किशोरी लाल शर्मा स्वर्गीय श्री राजीव गांधी के जमाने से ही अमेठी से जुड़े हुए हैं। पिछले 40 वर्षों से  अमेठी के लोगों से निरंतर संपर्क बनाए हुए हैं। केंद्र में कांग्रेस की सरकार रही हो या ना रही हो किशोरी लाल शर्मा क्षेत्र वासियों के लिए कुछ ना कुछ हमेशा करते रहे हैं।

अमेठी से कांग्रेस प्रत्याशी किशोरी लाल शर्मा

उन्होंने अमेठी और रायबरेली के लोगों से निरंतर संपर्क बनाए रखा और उनके  व्यवहार से दोनों संसदीय क्षेत्र के लोग हमेशा प्रभावित रहे हैं और आज भी है । स्मृति ईरानी भले ही  केंद्र में मंत्री हैं और हाई प्रोफाइल  है लेकिन किशोरी लाल शर्मा जमीन से जुड़े हुए कांग्रेस पार्टी के समर्पित नेता है और क्षेत्र के कांग्रेस कार्यकर्ताओं से ही नहीं आम जनता से भी उनका सीधा संपर्क है। अमेठी संसदीय क्षेत्र के बगल रायबरेली सीट से राहुल गांधी का चुनाव लड़ना और प्रियंका गांधी का दोनों क्षेत्रों के लिए प्रचार करना कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ताओं और समर्थको नए ढंग के उत्साह का संचार कर रहा है। समाजवादी पार्टी से कांग्रेस का गठबंधन होने के कारण कांग्रेस प्रत्याशी किशोरी लाल शर्मा को अतिरिक्त लाभ मिलना स्वाभाविक है।

क्षेत्रीय मतदाताओं से संपर्क करने पर ज्ञात हुआ कि शुरुआती दौर में ही किशोरी लाल शर्मा  स्मृति ईरानी को  बराबरी की टक्कर दे रहे हैं। इंडियन टेलीफोन इंडस्ट्रीज के अवकाश प्राप्त वरिष्ठ अधिकारी और कांग्रेस नेता आर.पी. पांडे का दावा है कि चुनाव प्रचार जैसे-जैसे आगे बढ़ेगा कांग्रेस पार्टी का ग्राफ बढ़ता जाएगा और  राहुल गांधी और किशोरी शर्मा दोनों ही अपनी-अपनी सीटों पर अच्छे खासे मार्जिन से जीत हासिल करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *