पुस्तक विमोचन और साहित्यिक परिचर्चा संपन्न

पंचकुला : 24 दिसंबर ((त्रिवेणी न्यूज़)

हरियाणा साहित्य एवं संस्कृति अकादमी, पंचकुला के महाराजा दाहिर सेन सभागार में आज पुस्तक विमोचन एवं परिचर्चा कार्यक्रम आयोजित किया गया। इसमें डॉ अलका शर्मा बोस तथा डॉ.अश्वनी शांडिल्य के संपादन में प्रकाशित संयुक्त काव्य संकलन ‘बिन तुम्हरे’ का विमोचन हुआ। इस पुस्तक पर समीक्षक डॉ. अरविन्द द्विवेदी ने सूक्ष्म विश्लेषण के साथ पर्चा पढ़ा। इसके साथ ही डॉ. अश्वनी शांडिल्य द्वारा लिखित पुस्तक ‘राष्ट्रीय चेतना के उन्नायक : कन्हैयालाल मिश्र प्रभाकर’ का भी विमोचन किया गया। इस पर डॉ. अलका शर्मा बोस ने पर्चा पढ़ा।

इस अवसर पर मुख्य अतिथि डॉ. कुलदीप चंद अग्निहोत्री (कार्यकारी उपाध्यक्ष, अकादमी) ने दोनों पुस्तकों के लेखकों को बधाई देते हुए कहा कि कविता स्वत: ही कवि के हृदय से निसृत होती है। उन्होंने राष्ट्रीयता के महत्व पर भी बल दिया।
प्रसिद्ध साहित्यकार व इतिहासकार डॉ. एम.एम. जुनेजा ने अध्यक्ष के रूप में बोलते हुए कहा कि विद्वानों का संग ही सबसे बड़ा सत्संग है। उन्होंने पुस्तक- संस्कृति को बढ़ावा देने की बात कही।


इस कार्यक्रम में भारतभूषण कौशिक (संयुक्त निदेशक खाद्‌य एवं आपूर्ति) ने विशिष्ट अतिथि के रूप में शिरकत की।उन्होंने बाल साहित्य की महती आवश्यकता पर जोर दिया।
कार्यक्रम के दूसरे चरण में ‘बिन तुम्हरे’ पुस्तक के रचनाकार अनु निमल, दीपिका बहुगुणा, डॉ. दीपशिखा शर्मा, डॉ. हरविन्दर कौर गुल, आरती प्रिय, डॉ. अलका शर्मा बोस ने काव्य-पाठ किया। इस कार्यक्रम में लखनऊ से पधारे उत्तर प्रदेश पुलिस के अवकाश प्राप्त वरिष्ठ अधिकारी डॉ.रामराज भारती भी उपस्थित थे । मंच का संचालन डॉ. अश्वनी शांडिल्य ने किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *