अंतराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर ‘कुमुदिनी’ नाम से विशेष आयोजन

लखनऊ :17 मार्च (त्रिवेणी न्यूज़)

राज्य कर्मचारी साहित्य संस्थान, उ0प्र0 की ओर से अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के उपलक्ष में नारी एवं मातृ शक्ति को समर्पित कवयित्रियों का कार्यक्रम ‘कुमुदिनी’ का आयोजन दिन रविवार, दिनांक 17 मार्च, 2024 को डॉ0 राम मनोहर लोहिया विधि विश्वविद्यालय, के सेमिनार हॉल, सेक्टर-डी 01, आशियाना, लखनऊ में हुआ। माँ शारदे की पूजन के उपरान्त कुमुदिनी कार्यक्रम में सभी उपस्थित साहित्यकारों एवं नारी शक्ति का स्वागत श्रीमती पूर्णिमा बेदार श्रीवास्तव ने किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे संस्थान के अध्यक्ष डॉ अखिलेश कुमार मिश्रा आई.ए.एस. के संचालन में कार्यक्रम में डॉ0 शोभा दीक्षित ‘भावना’,डॉ0 सीमा गुप्ता,डॉ0 रश्मिशील,डॉ0 रेनू वर्मा, सुश्री प्रीती त्रिपाठी, सुश्री वैष्णवी सिकरवार, सुश्री ज्योति उपाध्याय, डॉ0 अंजना कुमार, सुश्री अर्चना प्रतापगढ़ी, सुश्री अकर्षिका सरकार एवं सुश्री शशि श्रेया ने भी काव्यपाठ के माध्यम से सुर बिखेरे। समारोह का संचालन डॉ0 अखिलेश कुमार मिश्रा द्वारा किया गया। समारोह में धन्यवाद ज्ञापन श्रीमती इन्द्रासन सिंह ‘इन्दु’ ने किया। संस्थान की महामंत्री डॉ सीमा गुप्ता ने बताया कार्यक्रम का सफल आयोजन संस्थान के अध्यक्ष डॉ अखिलेश कुमार मिश्रा की देखरेख में इसका संयोजन डॉ0 शोभा दीक्षित ‘भावना’, श्रीमती पूर्णिमा बेदार श्रीवास्तव एवं श्रीमती इन्द्रासन सिंह ‘इन्दु’ ने मिलकर किया।

इस अवसर पर संस्थान के पदाधिकारी सदस्य श्री अनंत प्रकाश तिवारी, डॉ0 उमेश 'आदित्य', डॉ0 हरिप्रकाश 'हरि', श्री विजय त्रिपाठी, श्री जगदीश प्रसाद, श्री चंद्रदेव दीक्षित 'चंद्र', सुश्री यासमीन अफसर, श्री बृजेश कुमार, श्री रामराज भारती, डॉ0 सुधा मिश्रा, श्री विपुल मिश्रा, श्रीमती मीना गौतम, श्री अमरेंद्र द्विवेदी, श्री विपुल मिश्र, श्री राम लखन यादव, श्री त्रिवेनी प्रसाद दुबे 'मनीष', श्री सुरेन्द्र गौतम, श्री सुरेन्द्र शर्मा, श्री श्रवण कुमार सेठ, श्री अमरेंद्र द्विवेदी उपस्थित थे। साथ ही श्री कुलदीप किशोर, श्री मनीष मगन, सुश्री दीप्ति दीप, श्रीमती गीता गंगवार एवम श्री राजेश सिंह 'श्रेयस' सहित साहित्य जगत के विभूतियों के साथ ही समाज के विभिन्न विधाओं से जुड़े अतिथियों से खचाखच भरा रहा।

अत्यंत ही मनमोहन काव्य पाठ कार्यक्रम की अद्भुत सफलता की भूरि भूरि प्रशंसा हर ओर की गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *